Loading...

Follow Amazingsubahu on Feedspot

Continue with Google
Continue with Facebook
or

Valid
Amazingsubahu
A blog about Conscious and Healthy Living. It deals about, How to live lo..
+

हम सभी सिर्फ हमारे यौनांग नहीं है, हम इससे परे एक बृहत्तर आयाम और अस्तित्व हैं, इसकी खोज और अनुभूति की दिशा में कार्य कीजिये, नियमित, प्राणायाम और शारीरिक श्रम कीजिये, बच्चों के साथ खेलिए और अपने मन और शरीर को निर्दोष रखिये। ..read more

क्या अहंकार व्यक्ति के पतन का एक प्रमुख कारण होता है? ..read more

धर्म गुरूओं के संबंध आपकी क्या राय है? मेरे पाठकों में से कुछ ने पूछा है की धर्म गुरूओं के संबंध में आपकी क्या राय है? मेरी रुचि किसी भी किस्म के धर्मगुरुओं में नहीं है, मै बुद्ध पुरुषों, रहस्यवादियों और सत्य के खोजियों और उद्घोषकों में रुचि रखता हूं, यही हमारी संस्कृति और आध्यात्मिक शिक्षा का सार है, मानो नहीं जानो, जो स्वयं की खोज में उतरने और उसमे विकसित होने में सहयोगी हो वही गुरु बाकी सब दुकानदार, और कुछ ना कुछ बेचने वाले लोग। दुनिया के तमाम तथाकथित धर्मगुरुओं का सत्य  सभी तथाकथित धर्मगुरु, मौलवी, पादरी, पंडित[...] ..read more

धर्म गुरूओं के संबंध आपकी क्या राय है? मेरे पाठकों में से कुछ ने पूछा है की धर्म गुरूओं के संबंध में आपकी क्या राय है? मेरी रुचि किसी भी किस्म के धर्मगुरुओं में नहीं है, मै बुद्ध पुरुषों, रहस्यवादियों और सत्य के खोजियों और उद्घोषकों में रुचि रखता हूं, यही हमारी संस्कृति और आध्यात्मिक शिक्षा का सार है, मानो नहीं जानो, जो स्वयं की खोज में उतरने और उसमे विकसित होने में सहयोगी हो वही गुरु बाकी सब दुकानदार, और कुछ ना कुछ बेचने वाले लोग। दुनिया के तमाम तथाकथित धर्मगुरुओं का सत्य  सभी तथाकथित धर्मगुरु, मौलवी अपनी मान्यताओं,[...] ..read more

लोगों का ईश्वर की और झुकाव क्यों नहीं हो पाता है? Quora ..read more

सदगुरु जग्गी वासुदेव कौन हैं, किन लोगों को उनसे समस्या है? मेरे एक प्रिय Quora लेखक मित्र ने प्रश्न किया है सद्गुरु जग्गी वासुदेव कौन हैं, किन लोगों को उनसे समस्या है? सदगुरु जग्गी वासुदेव, एक योगी, रहस्यदर्शी और बुद्ध पुरुष हैं, और बुद्ध पुरुषों से बुद्धुओं को, मूढो, दुष्टों को, षडयंत्रकारियों, कुटिल लोगों को सदैव समस्या रही है। ऐसा सदा से हुआ है चाहे वो राम, कृष्ण, बुद्ध, महावीर, जीसस, कबीर, नानक, ओशो या सदगुरु ही क्यों ना हो, इन सभी ने अपने समय में यहाँ तक की सेकड़ों, हज़ारों वर्ष बाद आज भी इन दुर्बुद्धि लोगों की मुर्खता[...] ..read more

आध्यात्मिक साधकों द्वारा केश रखने और न रखने का क्या कारण है? मेरे कुछ पाठकों ने प्रश्न किया है की आध्यात्मिक साधना पथ पर अग्रसर  कुछ साधक अपने सिर और चेहरे के बाल क्यों निकाल देते हैं हैं, जबकि अन्य उन्हें बड़ा करते हैं? आध्यात्मिक साधकों द्वारा केश रखने और न रखने का क्या कारण है? दरअसल विभिन्न आध्यात्मिक पथों पर चलनेवाले साधक विभिन्न चिन्हों को धारण करते है जो उन विभिन्न साधना पद्धितियों में उपयोगी होती है, केश रखना या उनका त्याग करना या निकाल देना उनकी साधना और संन्यास की प्रक्रिया का अंग होते हैं। बुद्ध और जैन[...] ..read more

Gandhi Revisited – The other side of the coin The truth about Gandhi – Endorser of appeasement politics and dynasty rule in India after ..read more

सफलता क्या है, और कौन सफल है? सबसे पहले ये जान लेते हैं, सफलता किस चिड़िया का नाम है? सफलता क्या है, और कौन सफल है? सफलता से आपका क्या तात्पर्य है? इस दुनिया में हर व्यक्ति के लिए सफलता का अलग पैमाना होता है, और देखनेवालों की दृष्टि भी अलग अलग होती है। सफलता क्या है?  यहाँ सभी लोग अपने सपने और लक्ष्य का या उस बात का पीछा कर रहे हैं जो उन्हें लगता है उनके लिए जरुरी है, या जिसके मिल जाने से उनके जीवन में कुछ बहुत बेहतर हो जायेगा, उन्हें, संतुष्टि, परितृप्ति या सफलता या[...] ..read more

हिन्दू धर्म को श्रेष्ठ वैज्ञानिक धर्म क्यों समझा जाता है? मुझे पता नहीं कि हिन्दू धर्म के संबंध में लोगो की अवधारणा या सोच क्या है, लोग क्या जानते है, क्या समझते है, और क्या देखते है, और उसका आधार क्या है? जहां तक मेरी अपनी समझ और दृष्टि है अपने देश की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक विरासत के बारे में हमारे अवतारों, सिद्ध महामानवों, और मुक्त पुरुषों की दृष्टि, अभिव्यक्तियों और अनुभव की रोशनी में जिसका कुछ अंश यहां प्रस्तुत कर रहा हूं, आप इस संबंध में खोज कर सकते है और सत्य जान सकते हैं। यह धरती और यहां[...] ..read more

Separate tags by commas
To access this feature, please upgrade your account.
Start your free month
Free Preview